यू पी जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन उपजा के वर्ष 2014 में बरेली में हुए उपजा प्रादेशिक अधिवेशन में दादा पी. के. राय को सम्मानित करते तत्कालीन केंद्रीय मंत्री संतोष कुमार गंगवार। साथ खड़े हैं उपजा के प्रदेश अध्यक्ष रतन दीक्षित (प्रयागराज), वाराणसी के राधारमण चित्रांशी व निर्भय सक्सेना। दादा की ससुराल बरेली के मढ़ीनाथ में थी।

दादा जब भी बरेली आते उपजा प्रेस क्लब में आकर पत्रकारों से मिल कर उन्हें पत्रकारिता के गुर बता कर उपजा संघठन की मजबूती पर भी जोर देते थे। विगत वर्ष 8 अक्टूबर 2021को लखनऊ में मेने उनके निवास पर उनसे भेंट कर अपनी कलम बरेली की पुस्तक भी दी थी। उनके सोरों जिला कासगंज में सहपाठी रहे बरेली के नरेश बहादुर वर्मा जी बरेली से रुहेलखंड टाइम्स निकलते थे। उनका भी बीते वर्ष दिसंबर 2021 में निधन हुआ था। स्मरण रहे लखनऊ में इंग्लिश दैनिक दि हिंदू के राज्य में प्रमुख रहे वरिष्ठ पत्रकार, एन यू जे आई के राष्ट्रीय अध्यक्ष यू पी जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन उपजा के प्रदेश अध्यक्ष, और उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के अध्यक्ष रह चुके दादा पीयूष कांति राय का मुंबई में गत 16 अप्रैल 2022 को निधन हो गया था। उनके पुत्र आलोक जी के फोन पर हुई वार्ता के अनुसार दादा पी के राय का अंतिम संस्कार शनिवार 16 अप्रैल 2022 को विद्या सागर शमशान घाट, घाटकोपर मुंबई में सायं के समय में हुआ था। आलोक जी ने बताया था बाद में एक पूजा उनके लखनऊ के पत्रकार पुरम, आवास पर भी की जायेगी। दादा पी के राय के नाम से जाने जाते थे । बछावत वेज बोर्ड की अनुशंसा लागू कराने, नेशनल हेराल्ड और नवभारत टाइम्स के पत्रकारों के लिए दादा पी के राय ने काफी संघर्ष किया। लखनऊ के गांधीनगर के बाद वह पत्रकार पुरम लखनऊ में रहते थे। बरेली में उनकी ससुराल थी। पत्नी के कुछ साल पूर्व निधन के बाद अकेले ही पत्रकार पुरम में नोकर किशोर के साथ रहते थे। नोकर के निधन के बाद अकेले होने के कारण दादा के बेटे आलोक अपने पास मुंबई ले गए थे। वहां उन्हें दिल का दौरा पड़ने पर मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन डाक्टर उन्हें बचा नही सके। उपजा परिवार की ओर से उन्हें सादर नमन।

निर्भय सक्सेना

By Anurag

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *