लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकारों ने आज की पत्रकारिता पर अपने विचार रखते हुए युवा पत्रकारों से भाषा की शुद्धता के साथ ही लिखने पढ़ने पर भी जोर दिया।
उपजा प्रेस क्लब में एक संगोष्ठी में बोलते हुए समाचार एजेंसी पीटीआई के उत्तर प्रदेश हेड रहे वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद गोस्वामी ने कहा कि आज के युवा पत्रकारों में आजकल पढ़ने लिखने का अभाव है। उन्होंने कहा जब तक आप पढ़ोगे नहीं,तब तक सही लिखोगे नहीं।
संगोठी में बोलते हुए सत्य कथा लेखन में बड़ा नाम पत्रकार अजय कुमार ने कहा कि पहले पत्रकारों के जीवन में अभाव था लेकिन उनकी पत्रकारिता का पूरा प्रभाव था। परंतु आज के पत्रकार बिल्कुल विपरीत दिशा में कार्य कर रहे हैं। उनके पास किसी बात का अभाव नहीं है फिर भी उनका उनका प्रभाव भी नही है।
उनके बाद के न्यूज के सलाहकार संपादक वरिष्ठ पत्रकार के बख्श सिंह ने कहा कि आज के दौर में पत्रकारिता नहीं बल्कि चाटुकारिता हो रही है जिसके कारण लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ कही जाने वाली पत्रकारिता का असर कम हो रहा है ।
उपजा प्रेस क्लब संगोष्ठी में उपजा प्रेस क्लब के अध्यक्ष डॉ पवन सक्सेना कहा कि पहले के पत्रकारों में सीखने की ललक रहती थी। उनकी डांट पड़ती थी तब कहीं जाकर पत्रकारिता शुरू हो पाती थी। लेकिन आज के पत्रकारों में सीखने की ललक नहीं है बल्कि सीधे पत्रकार बन जाता है।


कार्यक्रम का संचालन उपजा के प्रदेश उपाध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार निर्भय सक्सेना ने किया। इस अवसर पर भारतीय पत्रकारिता संस्थान के निदेशक सुरेंद्र बीनू सिन्हा, वरिष्ठ पत्रकार जनार्दन आचार्य, सिटी न्यूज़ के संपादक अजय मिश्रा, डॉ राजेश शर्मा, स्वतंत्र चेतना के विजय सिंह, विधान केसरी के अशोक शर्मा लोटा मुरादाबादी, सहारा के आशीष जोहरी, उपजा के महामंत्री धर्मेद्र सिंह बंटी, पुत्तन सक्सेना, जनरक्षा के संतोष शाक्य, अभिषेक, शाह टाइम्स के शंकर लाल, महेश पटेल, शीनू कुमार, ललित कश्यप सहित तमाम पत्रकार गण मौजूद रहे।

By Anurag

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *