जनपद बरेली मीरगंज _ ज्येष्ठ माह की तपती दोपहरी में एक झोपड़ी में अचानक आग लग गयी और आग ने चंद मिनट में विकराल रूप ले लिया जिससे धनेटा फाटक के समीप अफरातफरी मच गयी। ग्रामीणो ने किसी तरह से आग पर काबू पाया लेकिन तक झोपड़ी जलकर राख हो गयी और साथ ही उसमें रखी पंद्रह हजार रूपये की नगदी व अनाज और लाखों का घरेलू उपयोग का सामान जलकर राख हो गया।
घटना शुक्रवार को दोपहरी के समय धनेटा रेलवे क्रासिंग के समीप तुलाराम की झोपड़ी मे घटी। तुलाराम मेहनत मजदूरी के सहारे फूस की झोपड़ी में परिवार के साथ रहकर गुजर बसर कर रहा था। तुलाराम मेहनत मजदूरी करने गया हुआ था और उसकी पत्नी कोटेदार के यहां खाद्यान्न गेहूं चावल लेने गयी थी और बच्चे स्कूल गये हुए थे। दोपहरी के दौरान झोपड़ी में अज्ञात कारणों से आग लग गयी। देखते देखते आग ने बिकराल रूप ले लिया तो आसपास के ग्रामीणों ने वहां पहुंचकर अपने संसाधनों से बमुश्किल आग पर काबू पाया। जब तक कि आग बुझाई गयी तब तक गरीब किसान तोलाराम की मेहनत मजदूरी से कमाये हुए 15 हजार रूपये, खाने पीने का सामान ,पहने व बिछाने के कपड़े और वर्तन व बच्चों की किताबें समेत तमाम लाखों का घरेलू सामान जलकर राख हो गया। जिससे तुलाराम का परिवार खुले आसमान के नीचे भूखों रहने को मजबूर हो गया। इस मामले में क्षेत्रीय लेखपाल ने मौके पर पहुंचकर जायजा लेते हुए रिर्पोट तहसील प्रशासन को सौंप दी है।

संवादाता डॉक्टर मुदित प्रताप सिंह की रिपोर्ट

By Anurag

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *